Ek Sham Kaka Ke Naam - Musical Night held on 24 November 2012

उदयपुर 24 नवम्बर। शनिवार की शाम ‘एक शाम काका के नाम’ आजाद अनुरंजनी श्रृंखला का प्रथम कार्यक्रम में हिन्दी फिल्मों सुपर स्टार रहे ‘राजेश खन्ना’ पर फिल्माये गीतों से ऐश्वर्या कॉलेज प्रांगण गूँज उठा। इस शाम के गवाह रहे मुख्य अतिथि रोटरी क्लब उदयपुर के रोटे. रमेश गर्ग। रोटरी अन्तर्राष्ट्रीय के तहत इंटरनेशनल फैलोशिप ऑफ रोटेरियन म्यूजिशियन (आई.एफ.आर.एम.) डिस्ट्रीक्ट 3050 व हॉरमनी म्यूजिक क्लब के संयुक्त तत्वावधान में इस संगीतमय संध्या में शहर की जानी-मानी हस्तियों ने ‘राजेश खन्ना’ पर फिल्माये गीतों की अपनी आवाज़ देकर ‘काका’ को बेहतरीन स्वरांजलि पेश की और संगीतमय लम्हों को यादगार बना दिया। एक शाम काका के नाम की शुरूआत इंटरनेशनल फैलोशिप ऑफ रोटेरियन म्युजिशियन (आई.एफ.आर.एम) डिस्ट्रिक्ट 3050 की अध्यक्ष रोटे. डॉ. सीमा सिंह स्वागत उद्बोधन देते हुए आई.एम.आर.एम. के बारे में जानकारी दी और बताया कि ‘एक शाम काका के नाम’ का आयोजन काका को संगीतमय स्वरांजलि है। मुख्य अतिथि रोटे. रमेश गर्ग ने कहा कि संगीत हमेशा से ही हमें नहीं स्फूर्ति व नयी ऊर्जा प्रदान करता है और गीत जब ‘राजेश खन्ना’ पर फिल्माये गये हो तो हर शख्स गुनगुना उठता है। इस अवसर पर डिस्ट्रिक्ट 3050 की सहायक प्रांतपाल रोटे. स्वर्णा गर्ग ने आई.एफ.आर.एम. के सदस्यों को संगीत पिन प्रदान की। हॉरमनी म्यूजिक क्लब की समन्वयक श्रीमती शालिनी भटनागर ने बताया कि एक शाम काका के नाम मेें रोटे. डॉ. स्वीटी छाबड़ा ने अपनी सुरीली आवाज़ में ज़िंदगी के सफर में गुजर जाते हैं वो मुकाम... फिर नहीं आते..... सुनाकर खूब तालियां बंटौरी। रोटे. डॉ. सीमा सिंह ने दिवाना लेके आया है.... और शालिनी राघव भटनागर ने करवटे बदलते रहे सारी सात हम...... प्रस्तुति देकर वातावरण को मदहोश बना दिया। इसके अलावा श्री अरूण लाहोटी ने कहीं दूर जब दिन ढल जाये... श्री रमेश मोदी द्वारा गाये गीत-हमें तुमसे प्यार कितना... पुनीत सक्सेना ने मेरे दिल मे आज क्या हैं... ने खूब वाहवाही लूटी। रोटे. स्वर्णा गर्ग ने मैंने तेरे लिये सात रंग..... और रोटे. श्रद्धा गट्टानी ने जय-जय शिवशंकर सुनाकर उपस्थित जनों को झुमने पर मजबूर कर दिया। कार्यक्रम में श्री रोहन भटनागर ने औ मेरे दिल के चैन.... उस्ताद फैयाज खान ने-ये लाल रंग कब मुझे...., मंगेश्वर वैष्णव द्वारा गाये गीत-दिये जलते हैं... और मास्टर यश और-युग भटनागर द्वारा प्रस्तुत गीत-मेरे सपनोें की रानी कब आयेगी..... तू सूनाकर मदमस्त कर दिया...। राजेश खन्ना की जीवन यात्रा पर आधारित कार्यक्रम का संचालन रोटे. रमेश मोदी व रोटे. डॉ. स्मिता सिंह ने किया। आखिर में फैयाज खान और मंगेश्वर वैष्णव ने आभार जताया।


Privacy Policy | Disclaimer | Terms of Use
Last Updated on : 11/05/21