जल संरक्षण पर पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन


जल संरक्षण पर पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन

ऐश्वर्या कॉलेज में विश्व जल दिवस मनाया गया। विश्व जल दिवस के अवसर पर पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में विद्यार्थियों ने उत्साह पूर्वक भाग लिया। प्रतियोगिता में बीए बीएड द्वितीय वर्ष की छात्रा प्रणिका खमेसरा प्रथम स्थानए गर्विता माली द्वितीय स्थान तथा निश्का राठोड़ तृतीय स्थान पर रही। प्रणिका खमेसरा ने अपने पोस्टर के माध्यम से जल संरक्षण का संदेश दिया तथा बताया की 22 मार्च को प्रतिवर्ष विश्व जल दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्य जल के महत्त्व पर प्रकाश डालना है। आज विश्व में जल का संकट कोने.कोने में व्याप्त है। दुनिया औद्योगीकरण की राह पर चल रही हैए किंतु स्वच्छ और रोग रहित जल मिल पाना कठिन हो रहा है। विश्व भर में साफ़ जल की अनुपलब्धता के चलते ही जल जनित रोग महामारी का रूप ले रहे हैं। 

बीए बीएड द्वितीय वर्ष की छात्रा हिमांशी श्रीमाली ने बताया की प्रकृति इंसान को जीवनदायी संपदा जल एक चक्र के रूप में प्रदान करती हैए इंसान भी इस चक्र का एक महत्त्वपूर्ण हिस्सा हैं। चक्र को गतिमान रखना प्रत्येक व्यक्ति की ज़िम्मेदारी है। इस चक्र के थमने का अर्थ हैए जीवन का थम जाना। प्रकृति के ख़ज़ाने से जितना पानी हम लेते हैंए उसे वापस भी हमें ही लौटाना है। हम स्वयं पानी का निर्माण नहीं कर सकते। अतः प्राकृतिक संसाधनों को दूषित नहीं होने देना चाहिए और पानी को व्यर्थ होने से भी बचाना चाहिए। 22 मार्च का दिन यह प्रण लेने का दिन है कि हर व्यक्ति को पानी बचाना है।



Privacy Policy | Disclaimer | Terms of Use
Last Updated on : 23/05/22