महिला दिवस कार्यक्रम का आयोजन


महिला दिवस कार्यक्रम का आयोजन

ऐश्वर्या कॉलेज में मंगलवार को विश्व महिला दिवस का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में ऐश्वर्या पीजी कॉलेज एवं बीएड कॉलेज की छात्राओं ने महिला शक्तिकरणए नारी उत्थान एवं भारतीय समाज में महिलाओं की बढ़ती भागीदारी सुनिश्चित करती हुई कविताएंए संभाषण एवं कलापूर्ण नृत्य प्रस्तुतियां दी। कार्यक्रम की अतिथि प्रोफेसर सीमा झालांए भूगोल विभागाध्यक्ष मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय रही। प्रोफेसर सीमा झालां ने छात्राओं को संबोधित करते हुए बताया की बदलते समय के साथ आधुनिक युग की नारी पढ़लिख कर स्वतंत्र है। वह अपने अधिकारों के प्रति सजग है तथा स्वयं अपना निर्णय लेती हैं तथा राष्ट्र के विकास के महान काम में महिलाओं की भूमिका और योगदान को पूरी तरह और सही परिप्रेक्ष्य में रखकर ही राष्ट्र निर्माण के लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है। बीएड द्वितीय वर्ष की छात्रा ईशा चौहान ने अपने संभाषण में बताया की  महिला सशक्तिकरण महिलाओं को वह मजबूती प्रदान करता हैए जो उन्हें उनके हक के लिए लड़ने में मदद करता है। हम सभी को महिलाओं का सम्मान करना चाहिएए उन्हें आगे बढ़ने का मौका देना चाहिए। इक्कीसवीं सदी नारी जीवन में सुखद सम्भावनाओं की सदी है। महिलाएँ अब हर क्षेत्र में आगे आने लगी हैं। दिशा सरीया द्वारा सुभद्रा कुमारी चौहान रचित खूब लड़ी मर्दानी वो झाँसी वाली राती थी कविता प्रस्तुत की गई। मानसी शर्माए हिमांशी श्रीमाली एवं अन्य छात्राओं में समूह गीत प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का संचालन बीएड की प्रणिका खमेसरा एवं गर्विता माली द्वारा किया गया।  



Privacy Policy | Disclaimer | Terms of Use
Last Updated on : 23/05/22